भारत में कोई सच्चा जिगोलो क्लब नही. एक भी नही.

सच्चाई यह है कि भारत में कोई विश्वसनीय जिगोलो क्लब नही हैं. हर क्लब एक धोखाधड़ी है.

अमेरिका और यूरोप में, सच्चे जिगोलो क्लब चलते हैं जहाँ महिलायें कॉल कर सकती हैं और आत्मविश्वास से एक ऐसा पुरुष चुन सकती हैं जो आकर्षक, बुद्धिमान, रोग-मुक्त और प्यार करने में माहिर हो. इसकी गारंटी एजेंसी देती हैं.

वहां के एजेंसी हर किसी को मेम्बरशिप नहीं देते. पहले उम्मीदवार का टेस्टिंग होता हैं. एजेंसी के महिला कर्मचारी हर तरह से उम्मीदवार को परखते हैं. स्वछता, सुंदरता, फैशन, मेडिकल टेस्टिंग और उसके प्यार करने के तकनीक. महिला कर्मचारी खुद उम्मीदवार से प्यार करती हैं और उनको आज़माती है. अगर वह किसी भी विभाग में विफल रहता है तो उसे अस्वीकार किया जाता है. जो सबसे अच्छा प्रदर्शन करते हैं उन्ही को जिगोलो काम के लिए स्वीकार किया जाता हैं.

लेकिन भारत में हर एक क्लब फ्रॉड है. और यह 'क्लब' वास्तव में क्लब नहीं होते, बस दो आदमी होते हैं जो whatsapp और facebook पर पुरुषों को message करते रहते हैं. एक लड़की होती है जो कॉल करने वालों को झूठा विश्वास दिलाकर पैसे जमा करने केलिए कहती हैं (लड़की की आकर्षक आवाज़ सुन, मुहब्बत का मारा अकेला आदमी उल्लू बन जाता हैं और पैसे जमा कर देता हैं). जैसे ही उनको आपका पैसा मिलता हैं, वे आपके कॉल का जवाब देना बंद कर देते हैं. यह सरासर चोरी हैं. यहां तक ​​कि उनकी वेबसाइट की content भी चोरी की गई है, मेरी वेबसाइट से या विदेशी वेबसाइटों से कॉपी-चिपकाई गई है.

अगर आप पुलिस से शिकायत करते हैं, तो ये धोखाधड़ी पकड़े जायेंगे. लेकिन ज्यादातर पीड़ित शिकायत करने से शरमाते है. और बिना शिकायत के, पुलिस कार्रवाई नहीं कर सकती। यही कारण है कि नकली जिगोलो एजेंसियां ​​लगातार कामयाब रही हैं। इन्के जाल में न फसो, अपने पैसे बचाओ.

 


 

अधिक जानकारी के लिए नीचे दी गयी लिंक्स पे क्लिक करें

 

 -------------

हमारे  free सुझाव आप के ईमेल में सीधे पाना चाहते हैं तो यह  3 चरणों का पालन करें

 

#

Subscribe for free gigolo tips and training announcements

Get posts emailed to you. No spam. Delivered by Feedburner (a Google company)