नकली जिगोलो एजेंसी की पहचान

नकली जिगोलो एजेंसी का पता लगाने का 3 सरल परीक्षण

1: क्या वे पैसे मांगते हैं? तो वे नकली हैं।
Client भेजने से पहले अगर एजेंसी वाले पैसे मांगे तो वे नकली हैं। असली एजेंसी client से पैसे लेते हैं (जिगोलो से नहीं) और अपना कमीशन काट कर जिगोलो को पेमेंट करते है। अगर एजेंसी आप से पैसे मांगे, तो उनकी टांग आप कुछ इस तरह खींच सकते हो । उनसे कहो आप पैसे क्लाइंट मिलने के बाद देंगे. अगर वे नहीं माने, तो पूछो क्यों नहीं? उनके बेतुका बहाने सुनने के बाद, उन्हें यह अनोखा deal पेश करें: उनसे कहो के आपको मंज़ूर हैं, आप उन्हें पैसे देंगे, बल्कि उनके मांगे हुए धनराशि का तीन गुना पेमेंट करेंगे, पर रकम ग्राहक के दिए हुए पैसे से काटे। ऐसा आकर्षक deal कौन ठुकरा सकता हैं? केवल एक नकली एजेंसी ही ठुकरा सकता है जिसके पास कोई client नहीं. 🙂

 

2: क्या वे उम्मीदवारों को ‘टेस्ट ड्राइव’ करते हैं? यदि नहीं, तो वे नकली हैं
क्या एजेंसी आप की योग्यता का परीक्षण लेती है? यदि नहीं, तो वे नकली हैं। ज़रा सोचिये. महिलाओं को जब पुरुष मुफ्त में मिल जाते हैं तो वह पैसे क्यों दे? वह पैसे केवल तब देगी जब उसे गारंटी मिले के आदमी बैडरूम में एक्सपर्ट हैं. और यह ‘गारंटी’ कौन दे सकता है? केवल एजेंसी। और एजेंसी कैसे जान सकती है कि आप बैडरूम में उस्ताद हो या निकम्मे ? एक ही तरीका हैं. अपने महिला कर्मचारियों को उम्मीदवारों को टेस्ट करने के लिए ले कहे. उम्मीदवार के प्रदर्शन के आधार पर उसे स्वीकृत या अस्वीकार करे। अगर एजेंसी, बिना परीक्षण के, जिगोलो को क्लाइंट के पास भेजे तो जानते हो क्या होगा? क्लाइंट असंतुष्ट होगी और पैसे नहीं देगी, और फिर कभी उस एजेंसी को संपर्क नहीं करेगी, और अपनी सहेलियों को बताएगी कि यह एजेंसी बेकार है, और जल्द ही एजेंसी का धंधा चौपट हो जाएगी। कोई भी एजेंसी यह रिस्क क्यों लेगी? सावधान: जो एजेंसी उम्मीदवारों की टेस्टिंग नहीं करती, वह नकली है! 🙂

 

३: क्या वे virgin पुरुषों को स्वीकार करते हैं? यदि हाँ, तो वे नकली हैं
महिलाएं virgin पुरुषों नहीं चाहती। अगर मुफ्त में मिले तो भी नहीं. 🙂 लेकिन नकली gigolo एजेंसी को क्या फ़र्क़ पड़ता है, उन्हें बस आप के पैसे हड़पने से मतलब है. वास्तव में, अधिकांश पुरुषों जो जिगोलो बनना चाहते हैं वह बस सेक्स के लिए बेताब हैं 99% लड़के जो जिगोलो क्लब में मेम्बरशिप लेते हैं वे virgin हैं. यह आदमी महिला की ख़ुशी की परवाह नहीं करते. और यदि परवाह करते भी हैं, तो उन्हें पता ही नहीं के महिला को कैसे खुश किया जाता हैं. याद रखें: महिलाएं virgin लड़के या निकम्मे प्रेमियों के लिए कभी पैसे नहीं देगी, ऐसे आदमी तो उन्हें अपने पड़ोस में ही मिल जाते हैं…100% मुफ्त!

———————-

यदि आपके पास मस्ती के लिए कुछ समय हो, तो एजेंसी वाले से कहे, “मैं virgin हूं, इस वजह से मेरी सदस्यता अस्वीकार तो नहीं होगी?”। जब वह कहेंगे नहीं, तो पूछें, “एक महिला मुझ जैसे virgin लड़के के लिए पैसे क्यों देगी जब उसे सैंकड़ो अनुभवी पुरुष मुफ्त में मिलेंगे?”

मेरा अनुमान है के वह कहेंगे, “महिलाएं कुंवारी पसंद करती हैं”, “लड़कियां फ्रेश मॉल पसंद करती हैं” वगैरह वगैरह…

झूट बोलते हैं वह 😉 केवल पुरुष ही हैं जो प्यार करने केलिए ‘ताजा मॉल’ पसंद करते हैं. महिलाएं हमेशा अनुभवी पुरुषों ही पसंद करती हैं।

यदि आपके पास समय है, तो पूछताछ जारी रखें। पूछो, “महिलाओं को virgin लड़के कहीं भी मिलेंगे, मुफ्त में. तो उन ‘ताजा मालों’ में से एक को क्यों नहीं चुन लेती? पैसे क्यों खर्च करे?”

वह कॉल काट देगा वह अकल्मन्द लोगों से बात करके अपना समय बर्बाद क्यों करे जब दर्जनों बेवकूफ कॉल वेटिंग पर उसकी प्रतीक्षा कर रहे हैं। 😉

English translation